सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

पुराने कंप्यूटर की स्पीड कैसे बढ़ाये?

How to speed up an old computer?

कभी-कभी हमारा कंप्यूटर बहुत धीरे-धीरे स्टार्ट होता हैं  या कार्य करता हैं | खासतौर पर जब कंप्यूटर पुराना हो जाता हैं तब वह स्टार्ट यानि बूट (Boot)) होने में बहुत समय लेता हैं | कंप्यूटर में कोई एप्लीकेशन या प्रोग्राम ओपन करना हो या कोई फाइल ओपन करनी हो अथवा इंटरनेट से कोई सॉफ्टवेयर डाउनलोड करना हो तब उसमे बहुत समय लगता हैं | जब कंप्यूटर स्लो (Slow) यानि धीरे चलता हैं तब हमें कार्य करने में न सिर्फ असुविधा होती हैं वरन हमें खीज भी पैदा होती हैं | जब कंप्यूटर की स्पीड स्लो हो जाती हैं तब वह बार-बार हैंग (Hang) होने लगता हैं |ऐसी स्थिति में हमारा कार्य करने का मन नहीं होता और हमारा मूड भी ख़राब हो जाता हैं | जब कभी पुराना कम्प्यूटर धीरे चलता हैं तब हम नया कंप्यूटर लेने की सोचते हैं लेकिन नया कंप्यूटर खरीदने से पहले हम कुछ उपाय करके इसकी स्पीड को बढ़ा सकते हैं |

अपने इस लेख में हम वह तरीके बताएँगे जिसका उपयोग करके हम पुराने कंप्यूटर की स्पीड बढ़ा सकते हैं |

सी-क्लीनर का उपयोग करे

कंप्यूटर की स्पीड बढ़ाने के लिए उसकी हार्ड डिस्क (Hard Disk) की सफाई करते रहे जिस तरह गंदगी बढ़ने पर बीमारियां फ़ैल जाती हैं और बीमारियां हमें कमजोर बना देती हैं | कमजोर शरीर पूरी क्षमता के साथ काम नहीं कर पाता | इसी तरह जब जब कंप्यूटर की हार्ड डिस्क भी अवांछित (Unwanted) फाइल्स और फ़ोल्डर्स से भर जाती हैं तब कंप्यूटर पूरी क्षमता से काम नहीं कर पाता और धीरे-धीरे चलता हैं | इसलिए समय-समय पर इसकी हार्ड डिस्क की सफाई जरुरी हैं | जो फाइल्स और फ़ोल्डर्स काम के नहीं हैं उन्हें डिलीट कर दे | हार्ड डिस्क की सफाई के लिए सी-क्लीनर (C Cleaner) का उपयोग करे | इसके उपयोग से हार्ड डिस्क में मौजूद अवांछित फाइल्स हट जाती हैं और डिस्क में पर्याप्त जगह भी खाली हो जाती हैं |

सी-क्लीनर को हम इंटरनेट से फ्री डाउनलोड कर सकते हैं | इसके लिए आगे दिए लिंक पर क्लिक करे : Secure, Fast and Private Browser from CCleaner

डीफ्रैग्मेंट (Defragment) का उपयोग करे

कंप्यूटर की स्पीड को बढ़ाने के लिए डीफ्रैग्मेंट (Defragment) का उपयोग करे | यह हमारी हार्ड डिस्क को व्यवस्थित रखता हैं और हार्ड डिस्क में पड़ी सभी अस्त-व्यस्त फाइलों को व्यवस्थित कर देता हैं | इसके लिए कंप्यूटर में हार्ड डिस्क के किसी भी पार्टीशन पर जैसे Drive C, Disk Drive E, Drive F इत्यादि पर माउस के राइट बटन (Right Button) से क्लिक करे | एक शॉर्टकट मेन्यु (Shortcut Menu) स्क्रीन पर प्रदर्शित होगा | यहाँ प्रॉपर्टीज पर क्लिक करे | एक डायलॉग बॉक्स ओपन होगा | यहाँ टूल पर क्लिक करे | अब हमें डीफ्रैग्मेंट (Defragment) का विकल्प मिलेगा | इस विकल्प पर क्लिक करके इसका उपयोग करे | कंप्यूटर के डीफ्रैग्मेंट (Defragment) की प्रक्रिया में 25 से 30 मिनिट का समय लग सकता हैं |

 पुराने कंप्यूटर का रैम (RAM) बदले

पुराने लैपटॉप या कंप्यूटर का रैम (RAM) बदलवा कर अथवा बढ़ा कर भी हम कंप्यूटर की स्पीड बढ़ा सकते हैं | यदि कंप्यूटर में 2 जीबी (GB) रैम (RAM) हैं तो इसे बढ़ा कर 4 जीबी किया जा सकता हैं | इससे न सिर्फ कंप्यूटर की स्पीड बढ़ जाएगी वरन इसकी परफोर्मेंस भी अच्छी हो जाएगी |

एक साथकई टैब नहीं खोले और स्टार्टअप प्रोग्राम को बंद करे

कंप्यूटर या लैपटॉप पर काम करते समय हम एक साथ ही कई प्रोग्राम ओपन कर लेते हैं | इंटरनेट का उपयोग करते समय भी हम एक साथ कई टैब ओपन कर लेते हैं | इससे भी कंप्यूटर की स्पीड काम हो जाती हैं | कभी-कभी कंप्यूटर को स्टार्ट करते समय बैकग्राउंड में कई प्रोग्राम अपनेआप रन (Run) होने लगते हैं | इन स्टार्टअप प्रोग्राम्स (Startup Programs) के अपनेआप रन होने से कंप्यूटर देर से स्टार्ट होता हैं अथवा हैंग (Hang) हो जाता हैं |

इसलिए कभी भी कंप्यूटर पर काम करते समय एकसाथ कई टैब ओपन नहीं करे | स्टार्टअप प्रोग्राम्स को बंद करने के लिए कंप्यूटर के टास्क मैनेजर (Task Manager) में जाए और स्टार्टअप प्रोग्राम्स को डिसेबल (Disable) कर दे | इससे कंप्यूटर की स्पीड में सुधार आएगा |


 कंप्यूटर में SSD डिस्क का उपयोग करे |

कंप्यूटर की स्पीड बढ़ाने का सबसे अचूक तरीका SSD डिस्क का उपयोग करना हैं | आमतौर पर पुराने कम्प्यूटर्स में HDD लगी होती हैं | यह डेटा को Read/Write करने के लिए Spinning Disk और Mechanical Arm का उपयोग करती हैं | लेकिन Solid-State Drive (SSD) डेटा को प्राप्त करने और उसे स्टोर करने के लिए फ़्लैश मेमोरी (Flash Memory ) का उपयोग करती हैं | इसी कारण SSD पारंपरिक हार्ड डिस्क ड्राइव की तुलना में अधिक तेज (Fast) होती हैं | HDD की तुलना में यह कंप्यूटर को Boot Up करने में बहुत कम  समय लेती हैं | इसकी कीमत HDD की तुलना में थोड़ी अधिक होती हैं | लेकिन इसका उपयोग आपके कंप्यूटर को नए कंप्यूटर की तरह High Speed वाला कर देगा |


 हम अपने कंप्यूटर की स्पीड ऊपर बताये गए किसी भी तरीके से बढ़ा सकते हैं लेकिन यदि कंप्यूटर की स्पीड को नए कंप्यूटर की तरह तेज करना हैं तो सबसे अच्छा विकल्प SSD का उपयोग करना ही हैं |

टिप्पणियाँ

एक टिप्पणी भेजें

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल वर्कबुक में नयी रो, कॉलम व शीट कैसे इंसर्ट कराये ?

माइक्रोसॉफ्ट एक्सेल वर्कबुक में नयी रो, कॉलम व शीट कैसे इंसर्ट कराये ? How to insert new rows, columns and sheet in an Microsoft Excel workbook? जब हम एक्सेल में डेटा टाइप करते हैं तब कभी-कभी हमें पता नहीं होता की हमारा डेटा कितना बड़ा हैं या कई बार ऐसा होता हैं की कुछ डेटा लिखने से रह जाता हैं अथवा पुराने डेटा में ही नया डेटा जोड़ना (Add) होता हैं तब हमें शीट में नयी रोज़ (New Rows), कॉलमस (Columns) या नयी सेल्स (Cells) की जरुरत पड़ जाती हैं अथवा डेटा अधिक होने पर एक या एक से अधिक नयी शीट की आवश्यकता भी होती हैं | आइये जाने की हम कैसे शीट में नयी रो, कॉलम या सेल इंसर्ट करवा सकते हैं अथवा जरुरत पड़ने पर नयी शीट भी फाइल में ले सकते हैं | एक्सेल शीट में एक नयी सेल, रो, कॉलम व शीट इंसर्ट करना सबसे पहले हम उस फाइल को ओपन (Open) करेंगे जिसकी किसी शीट में हमें एक (या अधिक) नयी (New) सेल (Cell), रो (Row), कॉलम (Column) व शीट (Sheet) इंसर्ट करनी हैं | अब हम रिबन (Ribbon) पर स्थित होम टैब (Home Tab) पर क्लिक करेंगे | होम टैब से संबंधित सभी कमांड्स स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जाएँगी | यहां हमें दायीं ओर

पॉवरपॉइंट में शैक्षणिक प्रेजेंटेशन कैसे बनाये?

How to Make an Educational PowerPoint Presentation ? माइक्रोसॉफ्ट पॉवरपॉइंट (PowerPoint) का उपयोग प्रत्येक क्षेत्र में बढ़ रहा हैं, विशेष रूप से शिक्षा के क्षेत्र (Educational Field) में यह बहुत ही उपयोगी सिद्ध हो रहा हैं | शैक्षणिक गतिविधिओं में इसका दो तरह से उपयोग हो रहा हैं: पाठ्य पुस्तकों के पाठ (Chapter) का प्रेजेंटेशन (Presentation) तैयार करना शिक्षा से संबंधित ट्युटोरियल्स (Tutorials) का प्रेजेंटेशन तैयार करना अपने इस लेख में हम आपको पाठ्य पुस्तकों के पाठ (Chapter) का प्रेजेंटेशन (Presentation) तैयार करना सिखायेंगे, लेकिन उससे पहले हम पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन के बारे में जानकारी लेंगे | पॉवरपॉइंट प्रेजेंटेशन क्या हैं? What is PowerPoint Presentation? माइक्रोसॉफ्ट पॉवरपॉइंट एक प्रेजेंटेशन प्रोग्राम (Presentation Program) हैं | इसका उपयोग डेटा (Data) और जानकारी (Information) को टेक्स्ट (Text), ग्राफ़िक्स (Graphics), एनिमेशन (Animation) इत्यादि के द्वारा अन्य व्यक्तियों के समक्ष प्रदर्शित (Present) करने के लिए किया जाता हैं | पॉवरपॉइंट प्रेजें

एमएस वर्ड डॉक्यूमेंट में कॉलम्स (Columns) कैसे इंसर्ट करे ?

एमएस  वर्ड डॉक्यूमेंट में कॉलम्स (Columns) कैसे इंसर्ट करे ? How to insert columns in MS Word document? हमने अखबारों और मैगजीन इत्यादि में टेक्स्ट को कॉलम्स (Columns) में विभाजित हुए देखा होगा | हम वर्ड डॉक्यूमेंट में भी टेक्स्ट को इसी तरह कॉलम्स में विभाजित कर सकते हैं | आइये इसका इसका चरणबद्ध तरीका सीखे | डॉक्यूमेंट में कॉलम्स (Columns) इंसर्ट करना हम जिस भी टेक्स्ट को कॉलम्स में विभाजित करना चाहते हैं पहले उसे सेलेक्ट कर लेंगे |  अब हम डॉक्यूमेंट में कॉलम्स इंसर्ट करने के लिए हम पेज लेआउट टैब (Page Layout Tab) पर क्लिक करेंगे | यह डिजाईन टैब (Design Tab) के दायीं ओर हैं | पेज लेआउट टैब पर क्लिक करने पर उसकी सभी कमांड्स स्क्रीन पर प्रदर्शित हो जाएँगी | पेज लेआउट टैब में बायीं ओर (Left Side) पेज सेटअप ग्रुप (Page Setup Group) में कॉलम (Columns) कमांड प्रदर्शित होगी | जब हम कॉलम्स कमांड पर क्लिक करेंगे तो एक ड्राप डाउन लिस्ट (Drop Down List) स्क्रीन पर प्रकट होगी | कॉलम ड्राप डाउन लिस्ट में हमें निम्न विकल्प मिलेंगे: वन (One): एक कॉलम यानि डॉक्यूमेंट यथास्थिति: में एक कॉलम में ही हो